Delhi School: अब सभी विद्यालयों में माइंडसेट, देशभक्ति हैप्पीनेस पाठ्यक्रमों का होगा मूल्यांकन, छात्रों के लिए गाइडलाइंस जारी आप जरूर पढ़ें

Delhi School: अब सभी विद्यालयों में माइंडसेट, देशभक्ति हैप्पीनेस पाठ्यक्रमों का होगा मूल्यांकन, छात्रों के लिए गाइडलाइंस जारी आप जरूर पढ़ें

Delhi School - देश की राजधानी दिल्ली में सरकार ने तीसरी से नौवीं व ग्यारहवीं कक्षा के बच्चों की परीक्षा व मूल्यांकन की नई गाइडलाइंस जारी कर दी हैं।

यह गाइडलाइंस सरकारी, सरकारी सहायता प्राप्त व मान्यता प्राप्त सभी स्कूलों में लागू होंगी। दिल्ली के सभी स्कूलों में चालू सत्र से शैक्षणिक, सह शैक्षणिक गतिविधियों के साथ-साथ

माइंडसेट करिकुलम, देशभक्ति व हैप्पीनेस आदि पाठ्यक्रमों का भी मूल्यांकन किया जाएगा। माइंडसेट पाठ्यक्रम में किसी कंटेंट का मूल्यांकन नहीं किया जाएगा, बल्कि इसके माध्यम से बच्चे ने क्या सीखा

दिल्ली सरकार ने (Delhi School) इसके लिए पहले व दूसरे टर्म के लिए 50-50 अंकों की वेटेज तय की है। विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट करनेे के लिए अंकों की इस वेटेज की गणना नहीं की जाएगी।

दिल्ली सरकार ने तीसरी से नौवीं व ग्यारहवीं कक्षा के बच्चों की परीक्षा व मूल्यांकन की नई गाइडलाइंस भी जारी की हैं। यह गाइडलाइंस सरकारी, सरकारी सहायता प्राप्त व मान्यता प्राप्त अनएडेड स्कूलों में होंगी

सरकार नेे बच्चों में आंत्रप्रन्योरशिप माइंडसेट को बढ़ावा देने का प्रयास कररही है देशभक्ति की भावना विकसित करने हैप्पीनेस को उनके जीवन का हिस्सा बनाने के लिए यह एक नई मूल्यांकन गाइडलाइंस तैयार किया हैं

तीसरी से आठवीं कक्षा तक के बच्चों का मूल्यांकन हैप्पीनेस और देशभक्ति पाठ्य क्रम के लिए यह किया जाएगा, जबकि नौवीं व ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों का भी मूल्यांकन देशभक्ति

आंत्रप्रेन्योरशिप माइंडसेट पाठ्य क्रम के लिए किया जाने वाला है । ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए असेसमेंट का एक अलग मानदंड तैयार होगा। इसमें बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम में उनकी भागीदारी भी रहेगी ।

नई गाइड लाइंस पर शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि इनमें बच्चों का मूल्यांकन पाठ्य क्रम की सामग्री के आधार पर नहीं बल्कि विभिन्न वास्तविक जीवन से जुडी परिस्थितियों में उनकी समझ को लागू