संख्या पर आधारित प्रश्न (QUESTION BASED ON NUMBER)

संख्या पर आधारित महत्वपूर्ण सूत्र

संख्या पर आधारित प्रश्न परिचय

संख्या पर आधारित प्रश्न ब्लॉग टॉपिक के माध्यम से हम सभी आज जानेंगे की संख्याएँ कितनी प्रकार की होती है |,और उन्हें किस तरह से परिभाषित किया जाता है। ,उनके फार्मूला क्या है , इन सभी बातो की चर्चा इस ब्लॉग पर हम करने वाले है |जैसे -प्राकृत संख्या, परिमेय संख्या, अपरिमेयसंख्या, सम संख्या , विषम संख्या , भाज्य संख्या ,अभाज्य संख्या ,पूर्ण संख्या एवं पूर्णांक संख्या आदि सभी के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल करते है तो चलिए शुरू करते है |

अलग संख्या की परिभाषा

प्राकृत संख्याएँ (Natural Numbers)
जिन संख्याओं से वस्तुओं की गणना की जाती है, उन्हें प्राकृत संख्याएँ कहते हैं |जैसे-1,2,3,4,5,6,7,8,9,10,11,12,13,

14,15,16,17,18,19,……अनंत तक |

(शून्य को प्राकृतिक संख्या नहीं माना जाता है।)

परिमेय संख्याएँ (Rational Numbers)-जिन संख्याओं को p /q के रूप में दर्शाया जा सके, जहाँ p और q कोई पूर्णांक संख्या हो (जबकि q बराबर नहीं 0 ), तो वह संख्या परिमेय संख्या कहलाती है, जैसे-5/4, 6/1 , 7/2, 4,5,-1आदि।

अपरिमेय संख्याएँ (Irrational Numbers) जिनसंख्याओं को p/q रूप में नहीं दर्शाया जा सके, जहाँ p और q कोई पूर्णांक संख्या हो (जबकि qबराबर नहीं 0) तो वह संख्या अपरिमेय संख्या कहलाती है, जैसे-√2, √3, √5, Π आदि।

सम संख्याएँ (Even Numbers)-वे प्राकृत संख्याएँ, जो 2 से विभाजित हो, सम संख्याएँ कहलाती हैं, जैसे-2,4,6, 8, 10, 12, 14…… इत्यादि।

विषम संख्याएँ (Odd Numbers)—वे प्राकृत संख्याएँ, जो 2 से विभाजित नहीं हो, जिसमें केवल उसी संख्या या किसी अन्य विषम संख्या से भी पूरी-पूरी भाग लगे, विषम संख्याएँ कहलाती हैं, जैसे-1,3,5,7,9,11…… इत्यादि।


भाज्य संख्याएँ (Composite Numbers)-1 से बड़ी वे सभी संख्याएँ, जिनमें अपने और 1 के अतिरिक्त कम-से-कम एक और संख्या में भाग लग सके भाज्य संख्याएँ कहलाती हैं, जैसे-4.6,9,15, 18 इत्यादि ।

अभाज्य संख्याएँ (Prime Numbers)-1 से बड़ी वे सभी संख्याएँ, जिनमें स्वयं उसी संख्या और 1 के अलावा और किसी संख्या से भाग नहीं लगे अभाज्य संख्याएँ कहलाती हैं, जैसे-2,3,5,7, 11, 13, 17 इत्यादि।

पूर्ण संख्याएँ (Whole Numbers)-प्राकृत संख्याओं के समुच्चय में “0” को सम्मिलित करने से संख्याओं का जो समुच्चय बनता है उसे पूर्ण संख्याओं का समुच्चय कहते हैं, जैसे-0, 1,2,3……इत्यादि।

पूर्णांक संख्याएँ (Integer Numbers)-जब पूर्ण संख्याओं को धनात्मक और ऋणात्मक चिह्नों के साथ दर्शाया जाता है, तो इनसे बने समुच्चय को पूर्णांक संख्याओं का समुच्चय कहते हैं, जैसे-5,4,-3,-2,-1.0, 2,3,4…… इत्यादि ।

संख्या पर आधारित प्रश्न के महत्वपूर्ण सूत्र

संख्या पर आधारित प्रश्न के सूत्र

गणित के महत्वपूर्ण सूत्र 

क्षेत्रमिति (mensuration )

  • यदि आप क्लास 10th के किसी भी विषय को पाठ वाइज (Lesson Wise) अध्ययन करना या देखना चाहते है, तो यहाँ पर  क्लिक करें  उसके बाद आप क्लास X के कोई भी विषय का अपने पसंद के अनुसार पाठ select करके अध्ययन कर सकते है ।
Share

About gyanmanchrb

इस वेबसाइट के माध्यम से क्लास पांचवीं से बारहवीं तक के सभी विषयों का सरल भाषा में ब्याख्या ,सभी क्लास के प्रत्येक विषय का सरल भाषा में सभी प्रश्नों का उत्तर दर्शाया गया है

View all posts by gyanmanchrb →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *