समय अमूल्य धन है निबंध | Ncert Solution

0

समय अमूल्य धन है, नामक निबंध में हम सभी विद्यार्थी जानेंगे की समय एक ऐसा चीज है, की एक बार बीत जाने के बाद वह कभी वापस नहीं आता है। इसलिए समय को वेवजह कभी विद्यार्थियों को नहीं गवाना चाहिए। समय को बर्बाद करना मतलब अपने कैरियर या अपने आप को बर्बाद करना है ।

समय हम सभी विद्यार्थियों के लिए अमूल्य है। हमें समय के मूल्य को समझना चाहिए और इसके साथ चलना चाहिए, क्योंकि समय किसी के लिए नहीं रुकता है, तो चलिए समय के महत्त्व को विस्तार से समझते है इस ब्लॉग में इन सारी टॉपिक के बारे में चर्चा करेंगे –

  • समय का महत्व, 
  • समय का सदपयोग आवश्यक, 
  • समय की अगवानी आवश्यक,
  • पैसे से अधिक कीमती है? समय
  •  उचित समय पर उचित कार्य।

समय अमूल्य धन है नामक निबंध में जानेंगे समय का महत्व

समय अमूल्य धन है, नामक निबंध के माध्यम से  फ्रैंकलिन का कथन है- तम्हे अपने जीवन से प्रेम है, तो समयको व्यर्थ मत गँवाओं क्योंकि जीवन इसी से बना है। समय ही तो वन है। ईश्वर एक बार एक ही क्षण देता है, और दूसरा क्षण देने से पहले उसको छीन लेता है। समय ही एक ऐसी वस्तु है जिसे खोकर पुनः प्राप्त नहीं किया जा सकता है।

समय का कोई मोल नहीं हो सकता। श्रीमन्नारायण ने पाह- समय धन से कहीं अधिक महत्त्वपूर्ण है।  उसी तरह हम रुपया-पैसा तो कमाते ही हैं और जितना अधिक परिश्रम करें उतना ही अधिक धन कमा सकते हैं। परंतु क्या हजार परिश्रम करने पर भी चौबीस घंटों में एक भी मिनट बचा सकते है ? इनती मूल्यवान वस्तु का धन से फिर क्या मुकाबला इससे समय की महत्ता पर स्पष्ट प्रकाश पड़ता है।

समय अमूल्य धन है, का सदुपयोग आवश्यक

 समय के सदुपयोग का अर्थ है- उचित कार्य पूरा कर लेना। जो लोग आज का काम कल पर और कल का काम परसों पर टालते हैं, वे एक प्रकार से अपने लिए जंजाल खड़ा करते चले जाते हैं। मरण को टालते-टालते एक दिन सचमुच मरण आ ही जाता है। जो व्यक्ति उपयुक्त समय पर कार्य नहीं करता, वह समय को नष्ट करता हैं। एक दिन ऐसा आता है, जबकि समय उसको नष्ट कर देता है। जो छात्र पढ़ने के समय नहीं पढ़ते, वे परिणाम आने पर रोते हैं। 

समय की अगवानी आवश्यक 

समय अमूल्य धन है, नामक निबंध के जरिये जानेंगे की समय रुकता नहीं है। उसे तैयार होकर उसके आने की अग्रिम इंतजार करनी चाहिए। जो समय के निकल जाने पर उसके पीछे दौड़ते हैं, वे जिंदगी में सदा घिसटते-पिटते रहते हैं। समय सम्मान माँगता है। इसलिए कबीर ने कहा है।अमीर और गरीब के लिए समय की उपलब्धता समान रहती है लेकिन धन अमीर के लिए उपलब्ध होता है लेकिन  उसी तरह गरीब के लिए नहीं।पैसा कमाने में समय लगता है लेकिन पैसा एक पल भीसमय को नहीं खरीद सकता। 

समय अमूल्य धन है, पैसे से अधिक कीमती है?

इस बात को सभी लोग जानते है की टाइम इज मोर प्रिसियस फ्रॉम द मनी है – एक बार खोया हुआ धन को फिर से प्राप्त किया जा सकता है। लेकिन खोया हुआ समय कभी भी वापस नहीं लौट सकता है। धन की मात्रा समय के साथ किसी व्यक्ति के पास कभी कम होता है, यानी कोई व्यक्ति आज गरीब हो सकते हैं। लेकिन वही व्यक्ति कुछ समय बाद अमीर भी हो सकते हैं, या इसके विपरीतभी हो सकता है।दूसरी ओर समय एक निरंतर चलते रहता है।

वह  उसी तरह हर पल बदलते रहाता है, अगर किसी कारण से आप एक-दो मिनट के लिए लिखना बंद करने का फैसला किया है , हैरत की बात ये है कि उसे दुनिया की कोई भी ताकत आपके खोए हुए मिनटों को वापस लाने में मदद नहीं कर सकती है । एक सुखी सम्पन व्यक्ति के बारे में विचार करें, जब चिकित्सा देखभाल की तत्काल आवश्यकता की अति जरुरत है। लेकिन इसे पाने में असमर्थ है क्योंकि वह लम्बी ट्रैफिक जाम में फंस गया है।और वह व्यक्ति एक ऐसी स्थिति में फंस गया है। जहाँ पर उसकी पूरी मुद्रा की कीमत उसे उस समय को नहीं बचा सकती है, जिनकी उसे ज़रूरत है।

समय अमूल्य धन है, उचित समय पर उचित कार्य

  काल करै सो आज कर आज करै सो अब। पल में प्रलय होयेगा बहुरी करेगा कब।।

उदाहरण के तौर पे जो जाति समय का सम्मान करना जानती है, वह अपनी शक्ति को कई गुना बढ़ा लेती है। यदि सभी गाड़ियाँ अपने निश्चित समय से चलने लगें तो देश में कितनी कार्यकुशलता बढ़ जाएगी। यदि कार्यालय के कार्य ठीक समय पर संपन्न हो जाएँ, कर्मचारी समय के पाबंद हों तो सब कार्य सुविधा से हो सकेंगे। यदि रोगी को ठीक समय पर दवाई न मिले तो उसकी मौत भी हो सकती है। 

उपसंहार

अतः हमें समय की गंभीरता को समझना चाहिए। समय को हमेशा पैसे से अधिक मूल्यवान माना जाता है क्योंकि व्यक्ति ठीक ऐसे ही पैसा कमाने के लिए समय बिता सकता है। गांधी जी एक मिनट देरी से आने वाले व्यक्ति को क्षमा नहीं करते थे। आप ही सोचिए, सृष्टि का यह चक्र कितना नियमित है, कितना समय का पाबंद है ? यदि एक भी दिन धरती अपनी धुरी पर घूर्णन में देरी कर जाए तो परिणाम क्या होगा ? विनाश और महाविनाश अतः हमें समय की महत्ता को समझना चाहिए।

इन्हे भी पढ़े 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here