सामाजिक समस्याएँ पाठ 7 दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर Ncert Solution For Class 8 Civics

0

सामाजिक समस्याएँ पाठ 7 दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर Ncert Solution For Class 8 Civics के इस पोस्ट में आप सभी विद्यार्थियों का स्वागत है, इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी विद्यार्थियों को इस पाठ से जुड़ी सभी दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर के उत्तर जो परीक्षा की दृष्टि से आपके लिए काफी महत्वपूर्ण है, उन सभी प्रश्नों को इस पोस्ट पर कवर किया गया है ,जो आपकी परीक्षा की तैयारी के लिए काफी हेल्पफुल साबित होने वाली है, तो चलिए शुरू करते हैं-

सामाजिक समस्याएँ पाठ 7 दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर Ncert Solution For Class 8 Civics

सामाजिक समस्याएँ पाठ 7 अति लघु उत्तरीय प्रश्नोत्तर
सामाजिक समस्याएँ पाठ 7 लघु उत्तरीय प्रश्नोत्तर
सामाजिक समस्याएँ पाठ 7 दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर

1 बाल विवाह अधिनियम 2006 में क्या प्रावधान है?
उत्तर-बाल-विवाह की रोकथाम के लिए बाल-विवाह अधिनियम, 2006 में निम्न प्रावधान किये गये हैं-
(क) बाल-विवाह उसे कहते हैं जब लड़के एवं लड़की का विवाह क्रमशः 21 एवं 18 वर्ष से कम उम्र में कर दिया जाए।

(ख) अगर कोई व्यक्ति, जिसकी उम्र 21 वर्ष से कम है और वह किसी 18 वर्ष से कम उम्र की लड़की से विवाह करता है, तो इसे कानूनन अपराध माना जाएगा। ऐसी घटना होने पर ऐसे व्यक्ति के विरुद्ध पुलिस में प्राथमिकी दर्ज करायी जा सकती है।

अगर लड़की के माता-पिता या अभिभावक ऐसे विवाह की अनुमति देते हैं अथवा विवाह के संयोजन में सहायता प्रदान करते हैं या विवाह को रोकने में असफल होते हैं, तो वे भी दंड का भागीदार होंगे। अगर कोई पुरोहित ऐसा विवाह सम्पन्न करवाता है, तो वह भी दंड का भागीदार होगा।

(ग) बाल-विवाह को रोकने के लिए कोई भी व्यक्ति प्रथम दर्जे के जिला न्यायाधीश के पास याचिका दायर कर सकता है। झारखण्ड में प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को बाल-विवाह निवारण अधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है तथा ऐसे मामलों की शिकायत उनसे भी की जा सकती है।

2 मानव तस्करी से बचने के कौन-कौन से तरीके हैं ?
उत्तर-मानव-तस्करी से बचने के निम्न तरीके हैं-
(क) हमेशा सतर्क रहें।

(ख) किसी परिचित अथवा अपरिचित के बहकावे में न आवें।

(ग) किसी अपरिचित को अपना नाम, पता, मोबाइल नं. व अन्य निजी जानकारी नहीं दें।

(घ) किसी के बहकावे व प्रलोभन की जानकारी तुरंत अपने माता-पिता को दें।

(ङ) अपने अभिभावक या किसी विश्वसनीय व्यक्ति या संस्था का मोबाइल नं० अपने पास अवश्य रखें।

(च) आवश्यकता पड़ने पर पुलिस का सहयोग लें।

3 बाल-श्रम अधिनियम 1986 में क्या प्रावधान है? लिखें।
उत्तर-बाल-श्रम अधिनियम 1986 में निम्न प्रावधान किया गया है-
(क) 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चे एवं बच्चियों से होटल, कारखाना, रेलवे स्टेशन, बंदरगाह, दुकान, खदान जैसे जगहों पर मजदूरी करवाना दंडनीय है।

(ख) खतरनाक उद्योग जैसे बीड़ी, कालीन, सीमेंट, माचिस, साबुन, चमड़ा, भवन निर्माण आदि में बाल मजदूरी निषेध माना गया है।

(ग) कोई भी व्यक्ति बाल मजदूरी करवाता है। यदि उसका यह अपराध प्रथम बार सिद्ध होता है, तो उसे तीन महीने से लेकर एक वर्ष की सजा या 20 हजार रुपये जुर्माना या दोनों हो सकता है। यदि वह इसकी पुनरावृत्ति करता है, तो उसे छह महीने से दो वर्ष की सजा का प्रावधान किया गया है। jac board