मुद्रा और साख पाठ 3 अति लघु उत्तरीय प्रश्न | Ncert Solution for Class 10th Economics

0

मुद्रा और साख पाठ 3 अति लघु उत्तरीय प्रश्न | Ncert Solution for Class 10th Economics के इस अध्याय में आप सभी विद्यार्थियों का स्वागत है इस अध्ययन में पाठ से संबंधित जितने भी महत्वपूर्ण अति लघु उत्तरीय प्रश्न दिए गए हैं जो परीक्षा की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण हैं इस ब्लॉग पर उन सभी प्रश्नों का विस्तार से जिक्र किया गया है इस तरह के प्रश्न पिछले कई परीक्षाओं में पूछे जा चुके हैं इसलिए आप इन सभी प्रश्नों को बढ़िया से अध्ययन करें ताकि आने वाले परीक्षाओं में भी आपको कुछ मदद मिलेगी |

मुद्रा और साख पाठ 3 से सबंधित महत्वपूर्ण अति लघु उत्तरीय प्रश्न के उत्तर

मुद्रा और साख पाठ 3 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न के उत्तर
मुद्रा और साख पाठ 3 लघु उत्तरीय प्रश्न के उत्तर
मुद्रा और साख पाठ 3 अति लघु उत्तरीय प्रश्न के उत्तर
1 मुद्रा की परिभाषा दें।
उत्तर-साधारण शब्दों में मुद्रा का अर्थ है धन-दौलत जिसके इर्द-गिर्द सारी आर्थिक गतिविधियाँ घूमती हैं।
2 ऋण (साख) से आपका क्या तात्पर्य है ?
उत्तर-साधारण शब्दों में ऋण का अर्थ है साख या कर्ज जो कुछ शर्तों पर जरूरतमन्द लोगों को दिया जाता है ताकि वे अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति कर सके।
3 वस्तु विनिमय किसे कहते हैं ?
उत्तर-जब चीजों का लेन-देन बिना मुद्रा के प्रयोग से आपस में ही हो जाता है तो ऐसी व्यवस्था को वस्तु-विनिमय कहा जाता है।
4 मुद्रा को विनिमय का माध्यम क्यों कहा जाता है ?
उत्तर-क्योंकि मुद्रा विनिमय प्रक्रिया में मध्यस्थता का काम करती है, इसलिए इसे विनिमय का माध्यम कहा जाता है।
5 बैंकों में जमा की गई राशि को माँग मुद्रा क्यों कहते हैं ?
उत्तर-क्योकि जमा की गई राशि मांग करने पर प्राप्त की जा सकती है।
6 चेक से आपका क्या तात्पर्य है?
उत्तर-चेक एक ऐसा कागज है जो जमाकर्ता के खाते से चेक पर किसी अन्य व्यक्ति को एक विशेष रकम का भुगतान करने का आदेश देता है।
7 समर्थक ऋणाधार किसे कहा जाता है ?
उत्तर-समर्थक ऋणाधार वह सम्पत्ति है (जैसे- भूमि, सम्पत्ति, गाड़ी. पशु, बैंकों में पूंजी) जिसका कर्जदार मालिक कर्जदार होता है। अपने कर्ज देने के बदले में उधारदाता कर्जदार से ऐसी गारंटी की माँग कर सकता है।
8 ऋण की शर्तों से क्या तात्पर्य है?
उत्तर-व्याजदर, सम्पत्ति और कागजात की मांग, भुगतान के तरीकों आदि को मिलाकर ऋण की शर्तों का नाम दिया जाता है।
9 औपचारिक क्षेत्र के ऋण किसे कहते हैं?
उत्तर-बैंकों और सहकारी समितियों से लिए गए ऋण औपचारिक ऋण कहलाते हैं।
10 अनौपचारिक ऋण किसे कहते हैं ?
उत्तर-साहूकारों, व्यापारियों. मालिकों, रिश्तेदारों और मित्रों आदि से लिए जाने वाले ऋण औपचारिक ऋण कहलाते हैं।
11 मुद्रा के प्रयोग के दो तरीके या ढंग बताएँ।
उत्तर-(क) मुद्रा का प्रयोग अनेक प्रकार की चीजें खरीदने और बेचने में किया जाता है।
(ख) मुद्रा का प्रयोग विभिन्न प्रकार की सेवाएँ प्राप्त करने में भी किया जा सकता है। जैसे- वकील से परामर्श लेने में, डॉक्टर की सलाह लेने में आदि।
12 ऋण की शर्तों में सम्मिलित हैं:
उत्तर -(a) ब्याज दर
(b) समर्थक ऋणधार
(c) आवश्यक कागजात
13 वर्तमान में कागज के पैसे के अलावा किस रूप में धन का उपयोग बढ़ता जा रहा है?
उत्तर – प्लास्टिक मनी
14 क्रेडिट या ऋण में समझौते किसके बीच होता है:
उत्तर – ऋणदाता और उधारकर्ता
15 सिक्कों के प्रयोग से पहले निम्नलिखित में से कौन सी वस्तु का मुद्रा के रूप में प्रयोग किया जाता था?
उत्तर – अनाज
16 धनी परिवारों के लिए साख का कौन-सा मुख्य स्रोत है?
उत्तर – औपचारिक क्षेत्र
17 कुल जमा का वह हिस्सा जो एक बैंक अपने पास नकद में रखता है:
उत्तर – एक छोटा अनुपात
18 धन के आधुनिक रूप क्या हैं?
उत्तर – (a) मुद्रा
(b) प्लास्टिक मनी
(c) डिमांड डिपॉजिट
19 भारत में मुद्रा जारी कौन करता है:
उत्तर – भारतीय रिजर्व बैंक
20 क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को ________ में स्थापित किया गया था।
उत्तर – 1969
21 ऋण के औपचारिक स्रोतों के कामकाज की निगरानी कौन करता है?
उत्तर -भारतीय रिजर्व बैंक
22 निम्नलिखित में से कौन धन का आधुनिक रूप नहीं है?
उत्तर -चाँदी के सिक्के
23 संपार्श्विक की कमी की समस्या को दूर करने के लिए उधारकर्ताओं की सहायता कौन करता है?
उत्तर – स्वयं सहायता समूह (SHG)
24 ऋण के औपचारिक स्रोत की पहचान करें:
उत्तर -सहकारी समितियाँ
25 निम्नलिखित में बांग्लादेश के ग्रामीण बैंक से कर्ज लेने वाले अधिकांश कौन है?
उत्तर -महिलाएं
26 निम्नलिखित में साहूकार उधार राशि पर ब्याज लेता है?
उत्तर -बहुत अधिक
27 बैंक ऋण नहीं देते:
उत्तर -उचित संपार्श्विक और दस्तावेजों के बिना
28 निम्नलिखित में साख के औपचारिक साधनों में नही होते
उत्तर -कर्मचारी
29 भारत में विनिमय माध्यम के रूप में कौन-सी करेंसी का प्रयोग किया जाता है?
उत्तर -रूपया
30 मुद्रा को विनियम का माध्यम कहा जाता है क्योंकि
उत्तर -(a) इसे किसी भी वस्तु या सेवा के लिए सरलता से बदला जा सकता है।
(b) इसमे दोहरे संयोग की आवश्यकता से छुटकारा मिलता है।
(c) यह विनिमय प्रक्रिया में मध्यस्थता का कार्य करती है।
31 निम्नलिखित में करेंसी मुद्रा का रूप है?
उत्तर – आधुनिक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here