अध्याय 4 कृषि class 8 Ncert Solution Geography दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर

0

अध्याय 4 कृषि class 8 Ncert Solution Geography दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर के इस ब्लॉग पोस्ट में आप सभी विद्यार्थियों का स्वागत है तथा इस पोस्ट के माध्यम से पाठ से जुड़ी सभी दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर इस पोस्ट पर कवर किया गया है और जो परीक्षा की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है साथ में पिछले कई परीक्षाओं में भी इस तरह के प्रश्न पूछे जा चुके हैं, इसलिए कृपया करके इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें-

अध्याय 4 कृषि class 8 Ncert Solution Geography दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर

अध्याय 4 कृषि class 8 अतिलघु उत्तरीय प्रश्नोत्तर
अध्याय 4 कृषि class 8 लघु उत्तरीय प्रश्नोत्तर
अध्याय 4 कृषि class 8 दीर्घ उत्तरीय प्रश्नोत्तर

1 स्थानांतरी-कृषि की विशेषताओं का उल्लेख करें।
उत्तर- स्थानांतरी-कृषि की निम्नांकित विशेषताएँ हैं- यह कृषि का सबसे प्राचीन स्वरूप है। इस प्रकार की कृषि भारी वर्षा और वनस्पति के तीन पुनर्जन्म वाले क्षेत्रों में की जाती है। किसान किसी एक जगह के वृक्षों को काटकर और जलाकर साफ कर लेता है तथा राख को मृदा में मिला देता है।

तीन चार वर्षों तक वहाँ कृषि कार्य करता है। मृदा की उर्वरा शक्ति कम होने के बाद किसान दूसरी जगह स्थानांतरित हो जाता है। इस प्रकार की कृषि को कर्तन और दहन’ कृषि के नाम से भी जाना जाता है। यह अमेरिका, मध्य अफ्रीका, दक्षिण पूर्वी एशिया के उष्ण कटिबंधीय क्षेत्रों में प्रचलित हैं।

2 गेहूँ उत्पादन की भौगोलिक दशाओं का उल्लेख करें तथा इसके प्रमुख उत्पादक देशों के नाम लिखें।
उत्तर-वर्धन काल में मध्यम वर्षा एवं मध्यम तापमान, सुअपवाहित दोमट मिट्टी, फसलें पकने के समय पाला रहित रातें, तथा तेज धूप आदि गेहूँ उत्पादन के लिए आवश्यक भौगोलिक दशाएँ हैं। प्रमुख उत्पादक देश-संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, अर्जेंटीना, रूस, यूक्रेन, आस्ट्रेलिया तथा भारत प्रमुख देश हैं। भारत में गेहूँ शीत ऋतु में उगाया जाता है।

3 चावल उत्पादन की भौगोलिक दशाओं का वर्णन करें तथा इसके प्रमुख उत्पादक देशों के नाम लिखें।
उत्तर-यह विश्व की मुख्य खाद्य फसल है तथा उष्ण कटिबंधीय एवं उपोष्ण कटिबंधीय प्रदेशों का मुख्य आहार है। उच्च तापमान, अधिक वर्षा, चिकनी जलोढ़ मिट्टी जिसमें जल रोकने की क्षमता हो। प्रमुख उत्पादक देश-चीन विश्व का सबसे बड़ा चावल उत्पादक देश है। इसके बाद क्रमशः भारत, जापान, श्रीलंका, मिस्र है। उपयुक्त जलवायु दशा के कारण भारत के कुछ भागों एवं बांग्लादेश में एक वर्ष में दो-तीन फसलें उगाई जाती है।

4 चाय उत्पादन की भौगोलिक दशाओं का वर्णन करें तथा इसके प्रमुख उत्पादक देशों के नाम लिखें।
उत्तर-चाय विश्व का सर्वाधिक प्रचलित पेय है। यह बागानों में उगायी जाती है। भौगोलिक दशा- ठडी जलवायु वर्ष भर उच्च वर्षा जो समवितरित हो, सुअपवाहित दोमट मिट्टी एवं मंद ढाल । चाय के पौधे से पत्तियों को तोड़ते समय अधिक संख्या में श्रमिकों की आवश्यकता होती है। उत्पादक देश-चीन, भारत, श्रीलंका, कीनिया, तुर्की, इंडोनेशिया, वियतनाम।

5 भारत में चाय और कॉफी के वितरण का वर्णन करें।
उत्तर-चाय- भारत में प्रमुख उत्पादक क्षेत्र असम में ब्रह्मपुत्र की घाटी, पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग, जलपाईगुड़ी और कूच बिहार है। दक्षिण भारत में चाय तमिलनाडु और केरल के पश्चिमी घाट के निचले दालों पर तथा नीलगिरि की पहाड़ियों पर उगाई जाती है। कहवा- कॉफी का उत्पादन दक्षिणी भारत में कर्नाटक में सबसे अधिक होता है। इसके अतिरिक्त तमिलनाडु, केरल तथा आंध्र प्रदेश हैं।