झारखंड राज्य के बारे निबंध लिखें ?

0

झारखंड राज्य का निबंध परिचय संछिप्त में

झारखंड राज्य परिचय- आइये आज बात करते है। झारखंड राज्य का निबंध के माध्यम से हमारा नया राज्य झारखंड के विषय में । जो पूर्वी भारत स्थित है। झारखंड राज्य का गठन 15 नवंबर 2000 ई० को हुआ। बिहार के दक्षिणी भाग को अलग करके झारखंड राज्य बनाया गया है। झारखंड का अर्थ होता है। ‘झार-झंखारो और खनिज संपदाओं का क्षेत्र जहाँ झार-झंखार और खनिज फैला हो, उसे झारखंड कहते हैं। झारखंड राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में झार-झंखार और खनिज फैले हैं। झारखंड भारत का 28वां राज्य है।

यह अपने झरनों, जलप्रपातों, नदी नालों, पर्यटक स्थलों से भरा पड़ा है । जैसे- पारसनाथ पहाड़ी के सुरुचिपूर्ण जैन मंदिरों और बेतला नेशनल पार्क के हाथियों और बाघों के लिए जाना जाता है। राज्य की राजधानी रांची में अनेक पार्क है। इसमें 17 वीं सदी के जगन्नाथ मंदिर, एक हिंदू मंदिर और झारखंड युद्ध स्मारक शामिल हैं। टैगोर हिल नोबेल पुरस्कार से सम्मानित लेखक रवींद्रनाथ टैगोर को सम्मानित करने वाला एक स्मारक आदि स्थित है।

झारखंड राज्य के प्रमुख दार्शनिक स्थल

जलप्रपात –

जोन्हा जलप्रपात, पंचघाघ जलप्रपात, दशम जलप्रपात, हुंडरू जलप्रपात, हिरणी जल प्रपात ये रांची के अगल बगल स्थित हैं। बूढ़ा घाघ ,लोध जल प्रपात ,लावा पानी , सीता जलप्रपात ,धधारिया जलप्रपात आदि झारखण्ड राज्य के अन्य प्रमुख जलप्रपात है । 

झारखंड राज्य का निबंध के अंतर्गत आइये जानते है कुछ पार्क एवं अभयारण्य –

हज़ारीबाग़ की गुफाएं, बेतला अभयारण्य, नेतरहाट सनसेट प्वाइंट, दलमा अभयारण्य, बिरसा जैविक उद्यान, संजय गांधी जैविक उद्यान है । टैगोर हिल,जीइएल चर्च, रांची, संत मारिया रोमन कैथोलिक चर्च, मैक्लुस्कीगंज एंग्लो-इंडियन,झारखण्ड वार मेमोरियल धार्मिक स्थल है ।इसके अलावा नक्षत्र वन, रातू का किला, जुबली पार्क आदि प्रमुख दार्शनिक स्थल है

धार्मिक स्थल –

धार्मिक स्थसल में बाबा टाँगीनाथ धाम,आंजन धाम, गुमला में है । वासुकीनाथ मंदिर, रजरप्पा का छिन्मस्तिका मंदिर, जगन्नाथ मंदिर रांची में स्थित है । भद्रकाली का भव्य मंदिर, पहाड़ी मंदिर, सूर्य मंदिर, दिउड़ी मंदिर ये झारखण्ड में ही अन्य जगहों पर स्थित है। पारसनाथ स्थल, झारखण्ड वार मेमोरियल, नक्षत्र वन, रातू का किला, जुबली पार्क, आदि प्रमुख धार्मिक स्थल है

झारखंड राज्य कि सीमा- 

झारखंड राज्य के उत्तर में बिहार है। इसके दक्षिण में उड़ीसा राज्य है। इसके पूरब में पश्चिम बंगाल है। इसके पश्चिम में छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश राज्य हैं। इस राज्य की लंबाई पूरब से पश्चिम की ओर 463 किलोमीटर है। इसकी चौड़ाई उत्तर से दक्षिण की ओर 380 किलोमीटर है।

झारखंड राज्य के निवासी  

झारखंड राज्य की राजधानी राँची है। राँची एक बहुत बड़ा शहर है। झारखंड राज्य में राँची, जमशेदपुर, दुमका, बोकारो, धनबाद आदि बड़े शहर हैं। झारखंड आदिवासियों का क्षेत्र है। यहाँ उराँव, संथाल, मुण्डा आदि आदिवासी जातियाँ रहती हैं। यहाँ संथाली, उराँव, मुण्डारी, हो, बंगला एवं हिंदी भाषाएँ बोली जाती हैं। 

झारखण्ड राज्य में जिलों की संख्या

झारखण्ड राज्य के जिलों के नाम इस प्रकार है-
गुमला बोकारो हज़ारीबाग़ पच्छिमी सिंहभूम
सिमडेगा चतरा पाकुर पूर्वी सिंह भूम
लोहरदगा धनबाद लातेहार सरीखेला
रांची साहेबगंज दुमका गढ़वा
खूंती कोडरमा पलामू जामताड़ा
रामगढ़ गिरिडीह गोड्डा देवघर
झारखण्ड के सभी जिले

झारखंड राज्य के प्रमुख साधन

 झारखंड राज्य की जमीन पठारी और पथरीली है। यह एक पुराना पठार है। यहाँ पर खेती के लायक जमीन बहुत ही कम हैं। यहाँ धान और गेहूँ की खेती होती हैं। धान यहाँ की प्रमुख फसल है। झारखंड राज्य में खनिजों का भंडार है। भारत में सबसे अधिक खनिज झारखंड में पाया जाता है।

कोयला, लोहा, मैंगनीज, बॉक्साइट, अभ्रक, काइनाइट, यूरेनियम, ताँबा आदि यहाँ के प्रमुख खनिज हैं।यहाँ लोहे के बड़े-बड़े उद्योग फैले हैं। जमशेदपुर में लोहे का सबसे बड़ा कारखाना है। झारखंड में बहुत से धर्मशाला भी है।

देवघर वासुकीनाथ आंजन धाम, चुटिया का मंदिर, बोड़ेया का वैष्णव मंदिर, रजरप्पा का छिन्नमस्तिका मंदिर, रामरेखा धाम (सिमडेगा) आदि प्रमुख धर्मस्थान है। हुंडरू और दसम के जल प्रपात देखने योग्य हैं। इसके अलावे नेतरहाट, काँके, हटिया, जमशेदपुर आदि दर्शनीय स्थल है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here