जाति धर्म और लैंगिक मसले पाठ 4 | Ncert solution for class 10th Civics

0

जाति धर्म और लैंगिक मसले के इस ब्लॉग पोस्ट में आप सभी विद्यार्थियों को स्वागत है, जो कक्षा दसवीं में पढ़ रहे हैं, क्योंकि इस ब्लॉग पोस्ट में दसवीं क्लास पाठ 4 जाति, धर्म और लैंगिक मसले से सबंधित सभी महत्वपूर्ण प्रश्नों का उत्तर जो कई बार पिछले परीक्षा में पूछे जा चुके हैं, उन सभी प्रश्नों को इस ब्लॉग पोस्ट पर कभर किया गया है, आपकी परीक्षा की तैयारी करने में काफी हद तक मदद मिलेगी, इसलिए इस ब्लॉग पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें |

जाति धर्म और लैंगिक मसले पाठ 4 | Ncert solution for class 10th Civics के महत्त्व पूर्ण प्रश्न

जाति धर्म और लैंगिक मसले पाठ 4 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न के उत्तर
जाति धर्म और लैंगिक मसले पाठ 4 लघु उत्तरीय प्रश्न के उत्तर
जाति धर्म और लैंगिक मसले पाठ 4 अति लघु उत्तरीय प्रश्न के उत्तर
1 विभिन्न धर्मों से निकले विचार, आदर्श और मूल्य ……………… में एक भूमिका निभा सकते हैं। (राजनीति/संसद)
उत्तर-राजनीति।
2 किसी अलग धर्म को मानने वाले लोग एक ही ………… समुदाय का हिस्सा नहीं हो सकते। (पारिवारिक /सामाजिक)
उत्तर-सामाजिक।
3 हमारे देश में आजादी के बाद से ………….. की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। (पुरुषों/महिलाओ)
उत्तर-महिलाओं।
4 सार्वजनिक जीवन में औरतों का, खासकर राजनीति में उनकी भूमिका …………. है। (नगण्य/आधी)
उत्तर-नगण्य।
5 भारत की विधायिका में महिलाओं का अनुपात बहुत ही ………… है। (अधिक/कम)
उत्तर-कम।
6 लोगों को एक धार्मिक समुदाय के तौर पर अपनी जरूरतों, हितों और माँगों को ………… में उठाने का अधिकार होना चाहिए। (उपभोक्ता न्यायालय/राजनीति)
उत्तर-राजनीति।
7 स्कैंडिनेवियाई देशों में सार्वजनिक जीवन में …………. की भागीदारी का स्तर काफी ऊँचा है। (महिलाओं/ पुरुषों)
उत्तर-महिलाओं।
8 मनुष्य जाति की आबादी में औरतों का हिस्सा …………. है। (आधा/नगण्य)
उत्तर-आधा।
9 गाँधीजी का मानना था कि राजनीति …………….. द्वारा स्थापित मूल्यों से निर्देशित होनी चाहिए। (जाति/धर्म)
उत्तर-धर्म।
10 कई बार …………. सबसे गंदा रूप लेकर संप्रदाय के आधार पर हिंसा, दंगा और नरसंहार कराती है। (धर्मनिरपेक्षता/ सांप्रदायिकता)
उत्तर-सांप्रदायिकता।
11 ……………. की मुख्य जिम्मेवारी गृहस्थी चलाने और बच्चों का पालन-पोषण करने की है। (औरतों/पुरुषों)
उत्तर-औरतों।
12 सांप्रदायिकता की तरह ………….. भी इस मान्यता पर आधारित है कि जाति ही सामाजिक समुदाय के गठन का एकमात्र आधार है। (जातिवाद/ समाजवाद)
उत्तर-जातिवाद।
13 गाँधीजी कहा करते थे कि ……….. को कभी भी राजनीति से अलग नहीं किया जा सकता। (जाति/धम)
उत्तर-धर्म।
14 ………….. में एक तिहाई पद महिलाओं के लिए आरक्षित किए गए हैं।
उत्तर-पंचायतों और नगरपालिका।
15 एक साम्प्रदायिक सोच अक्सर अपने समुदाय का राजनीतिक ……….. स्थापित करने के फिराक में रहती है।
उत्तर-प्रभुत्व।
16 भारत का संविधान किसी …………. को विशेष दर्जा नहीं देता। (व्यक्ति/धर्म)
उत्तर-धर्म।
17 विभाजन के समय भारत और …………. में भयावह सांप्रदायिक दंगे हुए थे। (पाकिस्तान/श्रीलंका)
उत्तर-पाकिस्तान।
18 चुनाव में …………. की भूमिका महत्त्वपूर्ण होती है। (जाति/ धर्म)
उत्तर-जाति।
19 महिला आंदोलन का कहना है कि सभी धर्मों में वर्णित ……….. महिलाओं से भेदभाव करते हैं। (पारिवारिक कानून/ नारीवादी समूह)
उत्तर-पारिवारिक कानून।
20 हमारे देश में सतारूढ़ दल, वर्तमान सांसदों और विधायकों को अक्सर चुनाव ……….. में का सामना करना पड़ता है। (जीत/हार)
उत्तर-हार।
21 अधिकारों और अवसरों के मामले में स्त्री और पुरूष की बराबरी मानने वाला व्यक्ति को ………. कहते है।
उत्तर-नारीवादी।
22 जाति को समुदाय का मुख्य आधार मानने वाला व्यक्ति ……… कहलाता है।
उत्तर-जातिवादी।
23 व्यक्तियों के बीच धार्मिक आस्था के आधार पर भेदभाव न करने वाला व्यक्ति ……….. कहलाता है।
उत्तर-धर्मनिरपेक्ष।
24 भारत में औरत के लिए एक तिहाई आरक्षण की व्यवस्था ……………में है।
उत्तर-पंचायती राज की संस्थाओं।
25 धर्म को समुदाय का मुख्य आधार मानने वाले व्यक्ति को ……….कहते हैं।
उत्तर-साम्प्रदायिक।
26 भारत में 2006 में राष्ट्रीय संसद में महिलाओं का प्रतिनिधित्व ………..था?
उत्तर-8.3%
27 सांप्रदायिकता हमारे देश के…………. के लिए एक बड़ी चुनौती रही है। (लोकतंत्र/ संसद)
उत्तर-लोकतंत्र।
28 ……………. पर आधारित सामाजिक विभाजन सिर्फ भारत में ही है।
उत्तर-जाति।
29 भारत में राज्यों की विधान सभाओं में महिलाओं का प्रतिनिधित्व …………. प्रतिशत है?
उत्तर-5% से भी कम।
30 संविधान धर्म के आधार पर किए जाने वाले किसी तरह के भेदभाव को …………. घोषित करता है। (वैधानिक / अवैधानिक)
उत्तर-अवैधानिक।
31 भारत का संविधान सभी व्यक्तियों और समूहों को ………….पालन करने और प्रचार करने की आजादी देता है। (किसी भी धर्म का/केवल राजकीय धर्म का)
उत्तर-किसी भी धर्म का।
32 ………….. अन्य जाति समूहों से भेदभाव और उन्हें अपने से अलग मानने की धारणा है। (अर्थव्यवस्था/वर्ण व्यवस्था)
उत्तर-वर्ण व्यवस्था
33 महिला आंदोलन ने औरतों के व्यक्तित्व और पारिवारिक जीवन में भी बराबरी की मांग उठाई। इन आंदोलन को ………….. आंदोलन कहा जाता है। (नारीवाद/ पारिवारिक)
उत्तर-नारीवाद।
34 संवैधानिक प्रावधान के बावजूद ………….. की प्रथा समाज से अभी तक पूरी तरह समाप्त नहीं हुई। (छुआछूत/जाति)
उत्तर-छुआछूत।
35 गाँधीजी का धर्म से मतलब हिन्दू या इस्लाम जैसे धर्म से न होकर ………….. से था, जो सभी धर्मों से जुड़े हैं। (सामाजिक मूल्यों / नैतिक मूल्यों)
उत्तर-नैतिक मूल्यों।
36 श्रीलंका में ………….. बहुसंख्यक है। (सिंहली/तमिल)
उत्तर-सिंहली।
37 श्रीलंका …………..में स्वतंत्र राष्ट्र बना। (1948/1947)
उत्तर-1948
38 धार्मिक आधार पर ………….. सांप्रदायिकता का दूसरा रूप है। (आर्थिक गोलबंदी/राजनीतिक गोलबंदी)
उत्तर-राजनीतिक गोलबंदी।
39 भारत में महिलाओं में साक्षरता दर अब भी सिर्फ ………….. है। (60% 154%)
उत्तर-54%.
40 ………….. राजनीति में अनेक रूप धारण कर सकती है। (धर्मनिरपेक्षता/सांप्रदायिकता)
उत्तर-सांप्रदायिकता।
41 इस समय भारत में लिंग अनुपात क्या है ?
उत्तर-1000 पुरुषों के पीछे 927 स्त्रियाँ।
42 भारत की विधायिकाओं में महिलाओं के प्रतिनिधित्व की स्थिति क्या है ?
उत्तर-भारत की विधायिकाओं (संसद एवं प्रांतीय विधानमण्डलों) में महिला प्रतिनिधियों का अनुपात बहुत ही कम है। लोकसभा में महिला सांसदों की गिनती 10% से भी कम है।
43 भारत में महिलाओं की साक्षरता कितनी है और पुरुषों की कितनी ?
उत्तर –भारत में महिलाओं की साक्षरता दर 54% है जबकि पुरुषों की 76%.
44 हमारा समाज पितृ प्रधान है या मातृ प्रधान ?
उत्तर-पितृ प्रधान, क्योंकि इसमें अभी भी महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों का प्रभुत्व प्राप्त है।
45 लैंगिक असमानता किसे कहते हैं ?
उत्तर-जब पुरुषों एवं महिलाओं में किसी भी प्रकार का भेदभाव किया जाता है तो उसे लैंगिक असमानता कहते हैं।
46 तीन प्रकार की सामाजिक विषमताओं के नाम लिखें।
उत्तर-लिंग, धर्म और जाति पर आधारित सामाजिक विषमताएँ।
47 पितृ प्रधान का शाब्दिक अर्थ क्या है ?
उत्तर-पितृ प्रधान- इसका शाब्दिक अर्थ तो पिता का शासन है पर इस पद का प्रयोग महिलाओं की तुलना में पुरुषों को ज्यादा महत्व, ज्यादा शक्ति देने वाली व्यवस्था के लिए भी किया जाता है।
48 पारिवारिक कानून क्या है ?
उत्तर- पारिवारिक कानून- विवाह, तलाक, गोद लेना और उत्तराधिकार जैसे परिवार से जुड़े मसलों से सम्बन्धित कानून। हमारे देश में सभी धर्मों के लिए अलग-अलग पारिवारिक कानून है।
49 वर्ण व्यवस्था क्या है ?
उत्तर-वर्ण-व्यवस्था- जाति समूहों का पदानुक्रम जिसमें एक जाति के लोग हर हाल में सामाजिक पायदान में सबसे ऊपर रहेंगे तो किसी अन्य जाति समूह के लोग क्रमागत के रूप से उनके नीचे।
50 जाति प्रथा से आपका क्या तात्पर्य है ?
उत्तर-जाति प्रथा- शाम शास्त्री ने अपनी सुप्रसिद्ध पुस्तक ‘जाति की उत्पत्ति’ में जाति प्रथा की परिभाषा इन शब्दों में दी है-“विवाह और भोजन जैसे कार्यों में कुछ लोगों के आपस में संगठित हो जाने को जाति प्रथा कहते हैं।”
51 शहरीकरण किसे कहते हैं ?
उत्तर-ग्रामीण इलाकों से निकलकर लोगों का शहरों में बसना शहरीकरण कहलाता है।
52 लैंगिक असमानता का आधार क्या है?
उत्तर-लैंगिक असमानता का आधार स्त्री और पुरुष की जैविक बनावट नहीं बल्कि इन दोनों के बारे में प्रचलित धारणाएँ और सामाजिक भेदभाव हैं।
53 हमारी सामाजिक शांति तथा सौहार्द को कौन भंग करता है?
उत्तर-जातिवाद झगड़े, सांप्रदायिक दंगे, क्षेत्रीय हिंसा एवं वंशानुगत शत्रुता आदि हमारी सामाजिक शांति और सौहार्द को भंग करते हैं।
54 अल्पसंख्यक किसे कहते हैं ?
उत्तर-अल्पसंख्यक उन लोगों को कहते हैं जो धर्म अथवा भाषा के आधार पर किसी विशेष प्रदेशों में बहुमत में नहीं होते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here