महत्तम समापवर्तक लघुत्तम समापवर्त्य के महत्वपूर्ण सूत्र

महत्तम समापवर्तक लघुत्तम समापवर्त्य

महत्तम समापवर्तक लघुत्तम समापवर्त्य परिचय

महत्तम समापवर्तक लघुत्तम समापवर्त्य के इस ब्लॉग में आप तामम विद्यार्थियों से आग्रह है की आप इस ब्लॉग को जजूर पढ़े क्योकि इसमें आपके नॉलेज को बढ़ाने के लिए अच्छा कंटेंट लाया जाता है ,आगे में रहिये आपको जरूर कुछ अच्छा सीखने के लिए मिलेगा

महत्तम समापवर्तक (H.C.F.)

दो या दो से अधिक संख्याओं का महत्तम समापवर्तक वह बड़ी से बड़ी संख्या है जो प्रत्येक दी गई संख्या को पूर्णतया विभाजित करती है

किसी बहुपद को उनके किसी ने गुणनखंड से भाग दिया जाए तो वह पूरा-पूरा विभाजित हो जाता है, सार्व गुणनखंड को समापवर्तक कहा जाता है,

महत्तम समापवर्तक और लघुत्तम समापवर्त्य (Maximum common factor and minimum common factor )
महत्तम समापवर्तक और लघुत्तम समापवर्त्य (Maximum common factor and minimum common factor )

अतः दो या दो से अधिक बहुपदों का महत्तम समापवर्तक (म० स०) वह सार्व गुणनखंड या सार्वभाजक होता है जिसमें चर का सभी सार्व गुणनखंडों में अधिकतम घात हो और जिसकी अधिकतम घात वाले पद का गुणांक धनात्मक हो,
महत्तम समापवर्तक निकालने की विधि महत्तम समापवर्तक निकालने की निम्नलिखित दो विधियां हैं:-

  1. भाग विधि द्वारा
  2. गुणनखंड द्वारा

भाग विधि द्वारा

भाग विधि द्वारा

उदहारण :- 32 तथा 56 का H.C.F . ज्ञात करें

गुणनखंड द्वारा

उदहारण :- 36 तथा 56 का H.C.F . ज्ञात करें

32 के गुणनखंड – 1 ,2 ,4 ,8 ,16 ,32

56 के गुणनखंड – 1 ,2 ,4, 7 ,8, 14 ,28 ,56

32 तथा 56 के उभयनिष्ठ गुणनखंड है – 1 ,2 ,4 ,8 तथा इनमे सबसे बड़ा 8 है

अतः 32 तथा 56 का म ० स ० =8

लघुत्तम समापवर्त्य ( L.C.M. )

वह छोटी से छोटी संख्या जो प्रत्येक दी गई संख्या द्वारा पूर्णत विभाजित हो जाए दी गई संख्याओं का ल० स० कहलाती है

लघुत्तम समापवर्त्य यदि कोई बहूपद दो या दो से अधिक बहुपदों से पूर्णतः विभाजित हो जाता है, तो पहला बहुपद इन बहुपदों का समापवर्त्य कहलाता है, दो या दो से अधिक बहुपदों की कई समापवर्त्य हो सकते हैं,

दो या दो अधिक बहुपदों का लघुत्तम समापवर्तक ल० स ० निम्नतम घात वाला वह बहुपद होता है जो उन सभी बहुपदों से पूरा पूरा विभाजित होता है,बहुपदों का लघुत्तम समापवर्तक निकालना बहुपदों का लघुत्तम समापवर्तक निकालने की निम्नलिखित दो विधियां:-

  1. भाग विधि द्वारा
  2. गुणनखंड द्वारा

भाग विधि द्वारा

उदाहरण :- 12 तथा 16 L.C.M. ज्ञात करें

भाग विधि द्वारा

गुणनखंड द्वारा

उदहारण :- 12 तथा 16 L.C.M. ज्ञात करें

गुणनखंड द्वारा

महत्तम समापवर्तक लघुत्तम समापवर्त्य के कुछ उपयोगी सूत्र

महत्तम समापवर्तक और लघुत्तम समापवर्त्य (Maximum common factor and minimum common factor )
महत्तम समापवर्तक और लघुत्तम समापवर्त्य (Maximum common factor and minimum common factor )

गणित के महत्वपूर्ण सूत्र 

क्षेत्रमिति (mensuration )


 

Share

About gyanmanchrb

इस वेबसाइट के माध्यम से क्लास पांचवीं से बारहवीं तक के सभी विषयों का सरल भाषा में ब्याख्या ,सभी क्लास के प्रत्येक विषय का सरल भाषा में सभी प्रश्नों का उत्तर दर्शाया गया है

View all posts by gyanmanchrb →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *