Chartered Accountant (CA) कैसे बने ?

Chartered Accountant: सामान्य रूप से आजकल देखा जाता है कि आज के टाइम में युवा वर्ग वित्तीय क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं क्योंकि यहां उन्हें बाकी क्षेत्रों की तुलना में अच्छा पैसा, मान सम्मान और एक सुरक्षित करियर नजर आता है। ऐसे में बीते कुछ वर्षों से Chartered Accountant अर्थात Chartered Accountant की डिमांड बढ़ती चली जा रही है जहां पर छात्रों को अपना करियर उच्च स्तर पर स्थापित व्यक्ति के रूप में करना पड़ता है।

यदि आप Chartered Accountant बनने के बारे सोच रहे हैं तो आप बिल्कुल सटीक पेज पर आ चुके हैं, इस आर्टिक्ल के माध्यम से हम आपको CA क्या है? कैसे करें इस विषय पर पूर्ण जानकारी देंगे, ताकि आपको भी किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना हो।

Chartered Accountant (CA) क्या है?

Chartered Accountant (CA) अर्थात चार्टेड एकाउंटेंट वह पेशेवर व्यक्ति होता है जो बजट ऑडिटिंग, tax को मैनेज करने के साथ साथ कम्पनियों को व्यापार में सही रणनीति बनाने में मदद करता है । आज के टाइम में Chartered Accountant का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है जिनके माध्यम से निश्चित रूप से ही अपने वित्तीय लेखे जोखे को संतुलित रखा जा सकता है और साथ ही साथ अपने व्यापार, फाइनेंस से जुड़ी समस्याओं को भी सही मायने मे Chartered Accountant के माध्यम से समझा जा सकता है।

ऐसे लोग जो Chartered Accountant बनना चाहते हैं, वे आगे चलकर किसी विशेष कंपनी में वित्तीय रूप से सलाहकार बनते हैं और साथ-साथ युवा वर्ग Chartered Accountant बन कर अपने सपने को सही तरीके से साकार कर पाते हैं।

Chartered Accountant कोर्स की अवधि

Chartered Accountant ऐसा कोर्स है जिसे आप अपने 12th के बाद या फिर ग्रेजुएशन के बाद भी कर सकते हैं। यह आपकी अपनी क्षमता पर आधारित होता है कि आप कितनी तेजी से इस काम को सीख पाते हैं। ऐसे में अगर आप 12वीं के बाद Chartered Accountant का कोर्स करना चाहते हैं तो उसमें आपको लगभग 5 वर्ष का टाइम लगेगा और यदि आप इसे अपने ग्रेजुएशन के बाद करना चाहते हैं, तो लगभग साढे़ 4 वर्ष का टाइम लगता है।

Chartered Accountant (CA) बनने की प्रक्रिया

Chartered Accountant बनने की प्रक्रिया थोड़ी लंबी होती है इस वजह से युवा वर्ग थोड़े विचलित हो सकते हैं लेकिन अगर आप ध्यान रखते हैं तो निश्चित रूप से ही इस परीक्षा को पास कर पाएंगे और कोर्स पूरा कर पाएंगे।
ऐसे में Chartered Accountant बनने के लिए परीक्षा तीन चरणों में होती है जो फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल एग्जाम के रूप में पूरी होती है। अगर आप इन तीनों परीक्षाओं को पास कर लेते हैं, तो निश्चित रूप से आप Chartered Accountant अर्थात Chartered Accountant बन सकते हैं। इसके लिए आपको निम्न चरणों से गुजरना होगा।

  • अगर आप Chartered Accountant (CA) बनना चाहते हैं इसके लिए पहले आपको Chartered Accountant फाउंडेशन परीक्षा के लिए पंजीकरण करवाना होता है।
  • Chartered Accountant (CA) की होने वाली परीक्षा को पास करने के बाद आप Chartered Accountant इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
  • अगर आप इनमें से होने वाली परीक्षाओं को पास करते हैं तो आपको Chartered Accountant आर्टिकलशिप के लिए अप्लाई करना होता है और जिसके बाद आप इन्हें विभिन्न समूहों के अंतर्गत पास करते हुए प्रशिक्षण ले सकते हैं।
  • इन सभी चरणों के पूरा होने के बाद आप Chartered Accountant फाइनल परीक्षा के लिए रजिस्टर कर सकते हैं और फिर आप को Chartered Accountant के लिए Chartered Accountant फाइनल परीक्षा की तैयारी करते हुए उसे क्लियर करना होगा।
  • एक Chartered Accountant (CA) बनने के लिए आपको मुख्य रूप से तीन चरणों में परीक्षायें देनी होती है जिसकी हम आपको विस्तृत जानकारी दे रहे हैं।

Chartered Accountant (CA) फाउंडेशन कोर्स

Chartered Accountant (CA) बनने की होड़ में यह पहला स्टेप है जब आपको Chartered Accountant फाउंडेशन कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके लिए आपको 12वीं परीक्षा कॉमर्स विषय से पास करना होगा। अगर आप एक बार Chartered Accountant फाउंडेशन कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करवा लेते हैं, तब आप इस परीक्षा को देने के लिए 3 साल तक के लिए वैलिडिटी प्राप्त कर लेते हैं। इसके अंतर्गत आने वाले दिनों में Chartered Accountant फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा दे सकते हैं। यदि आप 3 वर्षों में इस कोर्स को पास नहीं कर पाते हैं ऐसी स्थिति में आप को फिर से फाउंडेशन कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इस प्रक्रिया के लिए आपको पूरे 4 महीने का टाइम दिया जाता है जिसके अंतर्गत आपको फाउंडेशन परीक्षा पास करनी होती है।

फाउंडेशन कोर्स के अंतर्गत आपको चार पेपर देने होते हैं जिसमें हर पेपर 100 अंक का होता है और टाइम 3 घंटे का होता है।

Chartered Accountant (CA) इंटरमीडिएट कोर्स

जब आप Chartered Accountant (CA) फाउंडेशन कोर्स पूरा कर लेते हैं उसके बाद आप को इंटरमीडिएट कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करना होता है। इसके लिए भी आपको अलग से टाइम दिया जाता है जिसके अंतर्गत आप इंटरमीडिएट परीक्षा देकर आगे बढ़ सकते हैं जिसके अंतर्गत आपको 8 पेपर देने होते हैं जो लगभग दो भागों में विभाजित होते हैं। जैसे ही आप इंटरमीडिएट कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करते हैं, तो आपको 4 साल की वैलिडिटी मिल जाती है जिसके अंतर्गत ही आप को Chartered Accountant इंटरमीडिएट की परीक्षा पास करनी होती है।

अगर आप Chartered Accountant इंटरमीडिएट परीक्षा दे रहे हैं इसके अंतर्गत आपको 8 पेपर देने होते हैं, जो दो भागों में बंटे होते हैं। यहां पर प्रत्येक पेपर 100 नंबर का होता है जिसमें आपको काफी अच्छे नंबर लाने होते हैं ताकि आप सही तरीके से आगे बढ़ सके।

Chartered Accountant (CA) आर्टिकलशिप

Chartered Accountant (CA) परीक्षा में यह अंतिम चरण होता है जब आपको इंटरमीडिएट परीक्षा पूरी करने के बाद आर्टिकलशिप का मौका मिलता है। इसके अंतर्गत आपको प्रैक्टिस ट्रेनिंग दी जाती है इसके लिए 3 साल का टाइम होता है और इन 3 सालों में ही प्रैक्टिस ट्रेनिंग पूरी होती है। इसके बाद आपको Chartered Accountant हेतु फाइनल परीक्षा देना होता है। आर्टिकलशिप फाइनल परीक्षा में 8 पेपर होते हैं जिसमें दो भागों में पेपर बटे होते हैं। इसके अंतर्गत वित्तीय रिपोर्टिंग, रणनीति, वित्तीय प्रबंधन, कारपोरेट और संबंध कानून, प्रत्यक्ष कर, कानून अप्रत्यक्ष कर, कानून एडवांस्ड मैनेजमेंट अकाउंटिंग, सूचना प्रणाली नियंत्रण के बारे में जानकारी निहित होती है।

इसके लिए आपको शुरुआत में 3 साल की ट्रेनिंग दी जाती है और फिर इस ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद ही आपको 6 महीने के अंदर फाइनल परीक्षा देना होता है जिसके लिए आपके पास कम से कम 5 सालों का टाइम होता है।

Chartered Accountant (CA) बनने के लिए विभिन्न प्रकार की फीस
जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया कि अगर आप Chartered Accountant (CA) बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको तीन प्रक्रम में परीक्षा पास करना होता है। उसी प्रकार से आपको फीस भी 3 प्रकार से देना होता है।

इसके लिए सबसे पहले जब आप फाउंडेशन कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करवाते हैं, तब आपको लगभग ₹9800 की फीस देनी होती है। इसके बाद जब आप Chartered Accountant इंटरमीडिएट के लिए रजिस्ट्रेशन करवाते हैं उस टाइम आपको लगभग ₹27,200 फीस देनी होती है। अंत में जब आप Chartered Accountant फाइनल परीक्षा देना चाहते हैं, तो आपको कम से कम ₹32,200 की फीस अदा करनी होती है।

Chartered Accountant अथवा Chartered Accountant के लिए विशेष योग्यता
अगर आप Chartered Accountant (CA) बनना चाहते हैं तो यह आपके लिए सुनहरा अवसर है लेकिन इसके लिए आपको 12वीं में कॉमर्स विषय को 50 फ़ीसदी के साथ उत्तरण करना होगा।
यदि ऐसा उम्मीदवार है, जो कॉमर्स विषय की पढ़ाई ना किया हो ऐसी स्थिति में उन्हें 12वीं में 55% अंकों के साथ पास करना होगा।
इसके अलावा यदि ऐसा भी कोई उम्मीदवार हो जो ग्रेजुएशन के बाद Chartered Accountant करना चाहते हैं, तो फिर उन्हें 12वीं में 60 फ़ीसदी अंक प्राप्त करने होंगे।

Chartered Accountant (CA) बनने के बाद करियर के विकल्प

अगर आपने इस Chartered Accountant की परीक्षा को पास कर लिया हो तो इसके माध्यम से आप कई दूसरे क्षेत्रों में जाकर अपने भविष्य को संवार सकते हैं।

  • बैंकिंग क्षेत्र में |
  • वित्तीय संस्थानों में |
  • बीमा क्षेत्र में |
  • कंसलटेंसी क्षेत्र में |
  • Chartered Accountant फर्म में |
  • निवेश बैंकिंग में |
  • सरकारी गैर सरकारी क्षेत्रों में |
  • बिजनेस प्रोसेस मैनेजमेंट कंपनियों में
    इन सभी क्षेत्रों में Chartered Accountant की भरपूर डिमांड होती है। ऐसे में अगर आप निश्चित रूप से इस कार्य में आगे बढ़ना चाहते हैं, तो यह सभी करियर के विकल्प आपके सामने मौजूद हैं जिसके माध्यम से आप निश्चित रूप से ही अपने भविष्य को सही दिशा में बढ़ा सकते हैं।

भारत में Chartered Accountant (CA) बनने हेतु विभिन्न प्रकार के संस्थान

आज हम आपको भारत में स्थित कुछ मुख्य Chartered Accountant बनने के संस्थानों के बारे में बता रहे हैं जिसके माध्यम से आप भी एक बेहतर विकल्प प्राप्त कर सकेंगे।

  • अग्रवाल क्लासेस पुणे, महाराष्ट्र |
  • एकेडमी ऑफ कॉमर्स, नई दिल्ली |
  • येशस अकैडमी, बैंगलोर |
  • पर्ल Chartered Accountant कॉलेज, कोची केरल |
  • एटी अकैडमी मुंबई, महाराष्ट्र |
  • विद्यासागर करियर इंस्टीट्यूट लिमिटेड, जयपुर |
  • चाणक्य अकैडमी फॉर मैनेजमेंट एंड प्रोफेशनल स्टडीज, हैदराबाद |

Chartered Accountant (CA) बनने के बाद मिलने वाली सैलरी

Chartered Accountant (CA) बनना एक बहुत ही मेहनत का काम है जिसके पीछे सच्ची लगन और मेहनत काम करती है। अगर आप Chartered Accountant बन जाते हैं, तो आसानी के साथ ₹5,00000 से ₹8,00000 सालाना पैकेज प्राप्त कर सकते हैं। जैसे-जैसे आप का अनुभव प्राप्त करते हुए आप अपने दिशा में आगे बढ़ते हैं और लोगों को आपका काम पसंद आने लगता है, ऐसी स्थिति में आपकी 20,00000 से 25,00000 रुपए सालाना इनकम हो सकती है।

Chartered Accountant ( CA) की अच्छी पूछ परख मल्टीनेशनल कंपनियों में भी

अगर आपने Chartered Accountant (CA) का कोर्स पूरा कर लिया हो तो हम आपको यह बात बताना चाहेंगे कि आज के टाइम में मल्टीनेशनल कंपनियों में Chartered Accountant की डिमांड बहुत ज्यादा है। ऐसे में अगर आपने सही तरीके से इस कोर्स को पूरा कर लिया हो,तो ऐसी स्थिति में आपको इन कंपनियों के माध्यम से बेहतर अवसर प्राप्त हो सकते हैं जो जल्द ही आपके करियर ग्राफ को ऊंचा कर सकते हैं। प्रतिवर्ष Chartered Accountant की वैकेंसी निकाली जाती है जिसमें अप्लाई करते हुए आप भी आगे बढ़ सकते हैं।

FAQ

Q. सीए की एक महीने की वेतन कितनी होती है?

एक सीए की औसत वेतन भारत में 3 लाख रु के आसपास हो सकती है. फ्रेशर्स के लिए ये अच्छी सैलरी हो सकती है. CA के लिए सबसे ज्यादा सैलरी का पैकेज इंटरनेशनल पोस्टिंग के लिए आ सकता है और इसमें 76 लाख रु प्रति वर्ष तक की इनकम हो सकती है.

Q. CA की पढ़ाई करने में कितना खर्च आता है?

30000 से 45000 रु आपके ICAI (इंस्टीटूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया) में रजिस्ट्रेशन और एग्जाम फीस और कुछ अन्य खर्चे लगेंगे। अगर आप किसी कोचिंग इंस्टिट्यूट जॉइन करते हैं तो 200000 से 300000 रु आपके वहाँ पर खर्च होंगे। कुल खर्च हुआ 2.5 से 3.5 लाख रु लगभग।

Q. CA की तैयारी कब से शुरू करनी चाहिए ?

CA बनने के लिए आपको 10वीं कक्षा से ही इसकी तैयारी शुरू कर देना चाहिए CA के लिए आपको CPT Exam देनी होगी इसके लिए आप 10वीं कक्षा के बाद ही इसका रजिस्ट्रेशन करवा सकते है और 12वीं कक्षा के बाद CPT की परीक्षा दे सकते है।

Q. CA में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

सीए आईपीसीसी:- परीक्षा पैटर्न
CA IPCC में 7 सब्जेक्ट होते हैं जिन्हें 2 ग्रुप में बांटा गया है।

Q. CA कितने प्रकार के होते हैं?

CA का कोर्स चार महत्वपूर्ण लेवल में होता है.
Common Proficiency Test (CPT) – सामान्य प्रवीणता परीक्षा
Integrated Professional Competence Course (IPCC)/IPCE) – एकीकृत व्यावसायिक क्षमता पाठ्यक्रम

Q. 12th के बाद सीए के लिए कौन सी डिग्री बेस्ट है?

किसी भी स्ट्रीम ( विज्ञान/वाणिज्य/कला) से 10+2 पास करने वाले छात्र सीए कोर्स करने के लिए पात्र हैं। स्नातक या स्नातकोत्तर जिन्होंने किसी प्रतिष्ठित संस्थान से 3 या 4 वर्ष का स्नातक डिग्री कार्यक्रम पूरा कर लिया है, वे भी इस पाठ्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए पात्र हैं।

Q. CA में कितने एग्जाम होते हैं

ICAI भारत में CA परीक्षा सूची आयोजित करता है जिसमें 3 नाम शामिल हैं – CA Foundation, IPCC और CA फाइनल । इस क्षेत्र में पेशेवर बनने के लिए उम्मीदवारों को पूरी सीए परीक्षा सूची को साफ़ करने की आवश्यकता है। यदि आप भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंसी करना चाहते हैं, तो आपको आईसीएआई द्वारा प्रस्तावित सीए कोर्स के तहत पंजीकरण करना होगा। Money Earning Tips