भूमंडलीकृत विश्व का बनना पाठ 4 क्लास 10th अति लघु उत्तरीय प्रश्न

भूमंडलीकृत-विश्व-का-बनना

भूमंडलीकृत विश्व का बनना पाठ परिचय

भूमंडलीकृत विश्व का बनना नामक पाठ 4 चार में आप तामम विद्यार्थियों को इस पाठ से जुड़ी जीतनी भी परीक्षा उपयोगी अति लघु उत्तरीय सवाल पाठ के अंतर्गत आते है उन सभी सवालों का विस्तार से हक़ बताया गया है इसलिए सभी विद्यार्थी जो इस ब्लॉग पर अभी इस समय उपस्थित है , वे पूरा ब्लॉग को पढ़े क्योकिं आप ही का ज्ञान बढ़ने वाला है , तो चलिए शुरू करते है

पाठ 4 अति लघु उत्तरीय प्रश्न

(1.) वैश्वीकरण क्या है ?

उत्तर-साधारण भाषा में वैश्वीकरण का अर्थ है अपनी अर्थ-व्यवस्था और विश्व अर्थ-व्यवस्था में सामंजस्य स्थापित करना इसके अन्तर्गत अनेक विदेशी उत्पादक अपना माल और सेवाएँ बेच सकते हैं और इसी प्रकार हम अपने देश में निर्मित माल और सेवा को दूसरे देशों में बेच सकते हैं इस प्रकार वैश्वीकरण के कारण विश्व के विभिन्न देश अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पारस्परिक रूप में एक-दूसरे पर निर्भर हो जाते हैं।
वैश्वीकरण क्या है ?

(2.) वैश्वीकरण के लिए कौन-से कारक उत्तरदायी थे ?

उत्तर-(क) व्यापार,
(ख) काम की तलाश में एक देश से दूसरे देशों में लोगों का पलायन,
(ग) पूँजी या बहुत सारी चीजों की वैश्विक आवाजाही हो।
वैश्वीकरण के लिए कौन-से कारक उत्तरदायी थे ?

(3.) जैविक युद्ध का क्या तात्पर्य है ?

उत्तर-न्यू इग्लैड स्थित मैसाचुसेटस बे कॉलोनी के पहले गवर्नर जॉन विनर्थाप ने मई 1634 में लिखा था कि छोटी चेचक 
उपनिवेशकारों के लिए भगवान का वरदान है- “… देशी जनता… छोटी चेचक के कारण लगभग पूरी खत्म हो चुकी थी इस तरह परमेश्वर ने हमारी मिल्कीयत पर हमें मालिकाना दे दिया।”
अध्याय 4- भूमंडलीकृत विश्व का बनना

(4.) औपनिवेशीकरण के कारण कौन-से परिवर्तन आए 

 उत्तर-(क) औपनिवेशीकरण के कारण यातायात और परिवहन के साधनों में बहुत सुधार हुए, जिससे सामान के दूर-दूर 
तक ले जाने में काफी आसानी हो गई।(ख) उपनिवेशी देशों ने अपने अधीन बस्तियों में खुले दिल से पूँजी निवेश करना शुरू कर दिया क्योंकि उन्हें अब अपनी
 पूंजी के तेजी से बढ़ने के अवसर साफ दिखने लगे थे।
औपनिवेशीकरण के कारण कौन-से परिवर्तन आए 

(5.)19वीं सदी के उत्तरार्द्ध में यूरोपियन लोग अफ्रीका की ओर क्यों आकर्षित हुए ?

उत्तर-19 वीं सदी के अंतिम दशक में यूरोपियन लोग अफ्रीका की ओर आकर्षित हुए। क्योंकि यहाँ पर बड़े पैमाने पर 
प्राकृतिक स्रोत थे, जिनमें भूमि तथा खनिज प्रमुख थेयूरोपियन लोग इस आशा से वहाँ पहुँचे थे कि वे सुचारू रूप से बागवानी 
करेंगे तथा खानों से खनिज निकाल कर यूरोप भेजेंगे, परंतु वहाँ पर एक ऐसी समस्या थी जिसकी उन्होंने कल्पना भी नहीं की 
थी, वह थी मजदूरों की कमी। कोई भी पैसा लेकर काम करने को तैयार नहीं होता था।
class10th

(6.) रिंडरपेस्ट से आपका क्या तात्पर्य है ?

उत्तर-पशुओं में प्लेग की बीमारी को रिंडरपेस्ट कहते हैं जिससे 1890 के दशक में  हजारों में अफ्रीका के पशु मर गए 
जिससे स्थानीय लोगों की आजीविका और  अर्थव्यवस्था पर बड़ा गहरा प्रभाव पड़ा।
रिंडरपेस्ट से आपका क्या तात्पर्य है ?

(7.) होसे किसे कहते हैं ?

उत्तर-दक्षिणी अमेरिका के एक देश ट्रिनिडाड में मनाए जानेवाले मुहर्रम के मेले को (इमाम हुसैन के नाम पर) होसे कहते हैं।
होसे किसे कहते हैं ?

(8.) ‘गिरमिटिया मजदूर’ का क्या अर्थ है ?

उत्तर-गिरमिटिया मजदूर एक तरह के कछुआ मजदूर होते हैं, जो एक समझौते द्वारा मालिक रखता है जिसका एक निश्चित समय के लिए होता है तथा एक नए देश में काम के लिए लागू होता है।
गिरमिटिया मजदूर’ का क्या अर्थ है ?

 (9.) भारतीय गिरमिटिया मजदूरों का अंतिम पड़ाव कहाँ था ?

उत्तर – भारतीय गिरमिटिया मजदूरों के पहुँचने का मुख्य स्थान था- कैरिबियन द्वीप समूह (मुख्यतः ट्रिनीडाड, गुयाना तथा
 सूरीनाम) मारीशस और फिजी समीपवर्ती स्थल थे तमिल मजदूर सिलोन, मलाया जाते थे गिरमिटिया मजदूर असम के 
चाय बगानों के लिए भी भर्ती किए जाते थे।
भारतीय गिरमिटिया मजदूरों

(10.) वीटो का क्या अर्थ है ?

उत्तर– वीटो – निषेधाधिकार; इस अधिकार के सहारे एक ही सदस्य की असहमति किसी भी प्रस्ताव को खारिज करने का 
आधार बन जाती है।
वीटो का क्या अर्थ है ?

(11.) आयात शुल्क क्या है ?

उत्तर-आयात शुल्क- किसी दूसरे देश से आने वाली चीजों पर वसूल किया जाने वाला शुल्कयह कर या शुल्क उस जगह 
लिया जाता है जहाँ से वह चीज देश  में आती है, यानी सीमा पर, बंदरगाह पर या हवाई अड्डे पर ।
आयात शुल्क क्या है ?

(12.) भारत में अनुबन्धित श्रमिक दूसरे देशों में जाने के लिए क्यों तैयार हो गए। 

उत्तर-(क) भारत में कुटीर उद्योग ठप्प पड़ गए और इनमें लगे लोग बेरोजगार हो गए । और कर्ज में दब गए।(ख) भूमि कर की दर इतनी बढ़ गई कि किसान उन्हें दे पाने में असमर्थ हो गए।(ग) उनकी भूमियों को खनिजों की खुदाई करने या बागानों का निर्माण करने के लिए किसी किसी बहाने उनसे छीन 
लिया गया। 

(13.) हैनरी फोर्ड कौन था ?
 उत्तर-बड़े पैमाने पर कारों का एक जगत-प्रसिद्ध निर्माता ।
हैनरी फोर्ड कौन था ?

(14.) समूह 77 (G-77) से क्या तात्पर्य है ? 

उत्तर-पचास और साठ के दशक में विकासशील देशों को पश्चिमी देशों की अर्थव्यवस्थाओं की तेज प्रगति से कोई लाभ नहीं 
हुआ इसलिए उन्होंने अपना एक नया समूह बना लिया जो समूह 77 (G-77) के नाम से प्रसिद्ध है।
समूह 77 (G-77) से क्या तात्पर्य है ? 

(15.) एन० आई० ई० ओ० (N. I. E. 0.) से क्या तात्पर्य है ?

 उत्तर-इसका अर्थ है न्यू इंटरनेशनल इकानामिक आर्डर जिसका आशय यह है कि विकासशील देशों को इस नई व्यवस्था 
में अपने साधनों पर सही अर्थों में नियन्त्रण मिल सके।
(15.) एन० आई० ई० ओ० (N. I. E. 0.) से क्या तात्पर्य है ?

(16.) टैरिफ का क्या अर्थ है ?

उत्तर-टैरिफ एक ऐसा कर जो आयात पर कोई देश लगाता है। यह कर आगमन स्थल | (प्रवेश) के समय लिया जाता है। जैसे- सीमा पर या हवाई अड्डे पर।
(16.) टैरिफ का क्या अर्थ है ?

(17.) विनिमय दर से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर-विनिमय दर किसी देश की मुद्रा को जोड़ना जिससे कि इसका प्रयोग दूसरे देश  के साथ व्यापार में किया जा सके। मुख्यतः दो विनिमय दर हैं- स्थिर विनिमय दर और तैरती (अस्थिर) विनिमय दर ।
(17.) विनिमय दर से आप क्या समझते हैं ?

(18.) नहर बस्तियाँ किन्हें कहा जाता है ? इन्हें क्यों और कहाँ स्थापित किया गया?

उत्तर-पंजाब की अर्ध-रेगिस्तानी परती जमीनों को उपजाऊ बनाने के लिए वहाँ नहरों का जाल-सा बिछा दिया गया। देखते ही देखते बंजर भूमियाँ नहरी बस्तियों में बदल गई जहाँ गेहूँ और कपास आदि फसलों की खूब खेती होने लगी।
 नहर बस्तियाँ किन्हें कहा जाता है 

(19) 1929 की महामन्दी का बंगाल के पटसन पैदा करने वाले लोगों पर क्या प्रभाव पड़ा?

उत्तर-1929 की महामन्दी के कारण बंगाल के पटसन पैदा करने वाले लोग बिल्कुल  तबाह हो गए। पटसन का कामता में कोई 60% की गिरावट आ गई जिसके परिणामस्वरूप वे कर्ज में दबते चले गए।
1929 की महामन्दी

(20.) असेम्बली लाइन से क्या तात्पर्य है ?

उत्तर-जब एक मशीन के अलग-अलग कलपुर्जे अलग अलग स्थानों पर बनाए जाते हैंऔर बाद में उन्हें एक स्थान
 पर इकट्ठा करके उन्हें एक पूरी मशीन का रूप दिया जाता है तो  ऐसे ढंग को असेम्बली लाइन कहा जाता है।
(20.) असेम्बली लाइन से क्या तात्पर्य है ?

(21.) युद्धोत्तर अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक व्यवस्था का मुख्य उद्देश्य क्या था ? 

उत्तर-(क) औद्योगिक विश्व में आर्थिक स्थिरता को बनाए रखा जाए।
(ख) पूर्ण रोजगार के साधनों का विकास किया जाए।

  • यदि आप क्लास 10th के किसी भी विषय को पाठ वाइज (Lesson Wise) अध्ययन करना या देखना चाहते है, तो यहाँ पर  क्लिक करें  उसके बाद आप क्लास X के कोई भी विषय का अपने पसंद के अनुसार पाठ select करके अध्ययन कर सकते है ।

युद्धोत्तर अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक
क्लास दसवीं के सभी सवाल
Share

About gyanmanchrb

इस वेबसाइट के माध्यम से क्लास पांचवीं से बारहवीं तक के सभी विषयों का सरल भाषा में ब्याख्या ,सभी क्लास के प्रत्येक विषय का सरल भाषा में सभी प्रश्नों का उत्तर दर्शाया गया है

View all posts by gyanmanchrb →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *