आप भले तो जग भला पाठ 4 नैतिक शिक्षा प्रश्नोत्तर । Ncert Solution For Class 8th moral education

0

आप भले तो जग भला पाठ 4 नैतिक शिक्षा प्रश्नोत्तर । Ncert Solution For Class 8th moral education के इस ब्लॉग पोस्ट में आप सभी विद्यार्थियों का स्वागत है, इस पोस्ट के जरिए आप सभी विद्यार्थियों को नैतिक शिक्षा से संबंधित सवाल की जवाब इस पाठ के अंतर्गत जो भी प्रश्न हैं, उन सभी का आपको अध्ययन करने के लिए मिलेगा जो दैनिक जीवन में यूज होने वाली सवाल है और परीक्षा के लिए भी काफी महत्वपूर्ण है, इसलिए इस पोस्ट को पूरी ध्यान से पढ़ें तो चलिए शुरू करते हैं-

आप भले तो जग भला पाठ 4 नैतिक शिक्षा वस्तुनिष्ट प्रश्नोत्तर । Ncert Solution For Class 8th

सही विकल्प का चयन करें-

1 सबसे बड़ा मूर्ख कौन है ?
(a) जो मनुष्य मूर्ख है और जानता है कि वह मूर्ख है।
(b) जो मनुष्य मूर्ख है और अपने को ज्ञानी समझता है।
(c) जो मनुष्य मूर्ख है और लोग उसे मूर्ख मानते हैं।
उत्तर-(b)

(2) जो मनुष्य मूर्ख है और शांत रहता है। बहुत आसान काम है-
(a) मेहनत करना,
(b) दूसरों की बात मानना.
(c) दूसरों को सीख देना,
(d) मित्र से बातचीत बंद करना।
उत्तर-(c)

3 ‘आप भले तो जग भला’ पाठ के आधार पर दुनिया कैसी है?
(a) फूल की सज्जा,
(b) काँच के महल.
(c) हवा-महल,
(d) भूत-महल।
उत्तर-(b)

4 अमेरिकी लेखक इमर्सन को क्या चीज का शौक था ?
(a) भेड़ चराने का,
(b) मछली मारने का,
(c) गीत गाने का.
(d) गाय पालने का।
उत्तर-(d)

आप भले तो जग भला पाठ 4 नैतिक शिक्षा महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर । Ncert Solution For Class 8th

निम्नांकित प्रश्नों के उत्तर लिखें-

1. (क) हमेशा दूसरों की निंदा करते हैं/नहीं करते हैं। क्यों?
(ख) किसी के अच्छे कार्यों के लिए प्रशंसा करते हैं/नहीं करते हैं। क्यों ?
(ग) बात-बात पर क्रोध करते हैं/नहीं करते हैं। क्यों ?
(घ) अपनी गलतियों को सुधारने की कोशिश करते हैं/नहीं करते हैं। क्यों ?
(ङ) दूसरे लोगों का सम्मान करते हैं/नहीं करते हैं। क्यों?

उत्तर-(क) हमेशा दूसरों की निंदा नहीं करते हैं क्योंकि दूसरों की निंदा करना बुरी बात है।

(ख) किसी के अच्छे कार्यों के लिए प्रशंसा करते हैं क्योंकि प्रशंसा करने से प्रशंसा पाने वाला व्यक्ति और अधिक अच्छा कार्य करने के लिए प्रोत्साहित होता है।

(ग) बात-बात पर क्रोध नहीं करते हैं क्योंकि क्रोध करने से बुद्धि भ्रष्ट हो जाती है, और हम सही-गलत का निर्णय विवेकपूर्ण ढंग से लेने में सक्षम नहीं रह जाते हैं।

(घ) अपनी गलतियों को सुधारने की कोशिश करते हैं क्योंकि अपनी गलती को सुधार कर ही हम जीवन में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

(ङ) दूसरे लोगों का सम्मान करते हैं क्योंकि यह शिष्टाचार है। शिष्टाचार के नियमों का पालन करना हमारा नैतिक कर्तव्य है।

2. लेखक ने संसार की तुलना काँच के महल से क्यों की है?
उत्तर-लेखक ने संसार की तुलना कौंच के महल से इसलिए किया है क्योंकि जैसा व्यवहार हम संसार के साथ करते है संसार भी बदले में हमारे साथ ठीक वैसा ही व्यवहार करता है। इसलिए तो कहा जाता है “आप भले तो जग भला, आप बुरे तो जग बुरा।

3 अब्राहम लिंकन की सफलता का सबसे बड़ा रहस्य क्या था?
उत्तर-अब्राहम लिंकन की सफलता का सबसे बड़ा राज यह था कि वे दूसरों की अनावश्यक नुक्ताचीनी कर उनका दिल नहीं दुखाते थे।

4 इस पाठ के द्वारा लेखक हमें क्या संदेश देना चाहता ?
उत्तर-इस पाठ के द्वारा लेखक यह संदेश देना चाहते हैं कि हमें व्यवहार कुशल होना चाहिए। हमेशा दूसरों में कमी या खोट नहीं ढूँढना चाहिए वरन अपनी कमजोरियों को पहचान कर
उसे दूर करने का प्रयास अवश्य करना चाहिए।

5. पहले और दूसरे कुत्ते में से किसके व्यवहार को आप सही मानते है ? उत्तर के पक्ष में तर्क दें।
उत्तर-दूसरे कुत्ते के व्यवहार को सही मानते हैं। इसका कारण निम्नांकित है-
(क) वह हजारों कुत्तों को देख कर भी डरा नहीं।
(ख) झूठी शान दिखलाने के लिए वह दूसरे कुत्तों पर भौकने के बदले प्यार से अपनी दुम हिलाई।
(ग) दूसरे कुत्तों को देख कर वह प्रसन्न हुआ।
(घ) इसलिए प्रसन्नतापूर्वक उछला-कूदा अपनी ही छाया से खेला, खुश हुआ और पूँछ हिलाता बाहर चला गया। jac board